झारखण्ड में हज़ारो लोगों को मिलेगी नौकरी, सरकार की तैयारी

Share:

झारखंड के युवाओं के लिए राहत की बड़ी खबर। राज्य सरकार निजी क्षेत्र में 21 हजार युवक-युवतियों को नौकरी देने की तैयारी में है। श्रम नियोजन, प्रशिक्षण एवं कौशल विकास विभाग इसे लेकर राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय कंपनियों के साथ बातचीत कर रहा है, जो अंतिम चरण में है।

 मेगा स्किल कॉन्क्लेव की तैयारी

सरकार की योजना के अनुसार, कौशल और रोजगार मेले की तर्ज पर रांची में जल्द ही मेगा स्किल कॉन्क्लेव होगा। इसमें होंडा, कमिंस इंडिया, मारुति सुजूकी, कोका-कोला जैसी कंपनियां शामिल होंगी। कोका-कोला के वाइस प्रेसिडेंट (भारत) के साथ विभाग के अधिकारियों की बैठक भी हो चुकी है। कॉन्क्लेव के लिए इन कंपनियों से विभाग के स्तर पर एग्रीमेंट भी किया जाएगा।

टीमों का गठन

सूत्रों के मुताबिक, स्किल कॉन्क्लेव के लिए अलग-अलग स्तर पर टीम बनी हैं, जो जिलों के साथ समन्वय स्थापित कर रहा है। कौशल विकास मिशन के निदेशक सह मुख्य कार्यपालक संजीव बेसरा को नोडल पदाधिकारी बनाया गया है। विभाग के संयुक्त सचिव, उपसचिव के स्तर पर भी वर्टिकल टीम काम कर रही है। विभागीय सचिव के स्तर पर भी टीम के साथ दो बार बैठक हो चुकी है।

रोजगार मेलों का आयोजन

श्रम एवं नियोजन विभाग के अनुसार, राज्य के अलग-अलग जिलों में पहले की तरह रोजगार मेले लगते रहेंगे। इसकी भी तैयारी विभाग के स्तर पर शुरू हो गई है। विभागीय अधिकारियों के अनुसार, अब तक 45,109 बेरोजगार युवक-युवतियों को रोजगार मेले से नौकरियां दी गई हैं। इनमें झारखंड स्किल डेवलपमेंट मिशन सोसाइटी द्वारा 26,343, नियोजनालय द्वारा 14,989 और औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों द्वारा 3777 नौकरियां राज्य के युवाओं को दी गई हैं।

एचईसी कर्मचारियों का वेतन

एचईसी के कर्मचारियों को 15 जून के पूर्व एक माह का वेतन भुगतान कर दिए जाने की संभावना है। एचईसी अपने संसाधनों से वेतन भुगतान का प्रयास कर रहा है। हटिया प्रोजेक्ट वर्कर्स यूनियन के संयुक्त महामंत्री लीलाधर सिंह ने बताया कि एचईसी ने पांच टन के मेल्टिंग कर उत्पादन किया और उसे डिस्पैच किया है। इससे मिले पैसे से वेतन दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि सप्लाई- ठेका कामगार कि टेंडर प्रक्रिया एचएमबीपी और एफएफपी का जारी कर दिया गया है। शेष का जल्द ही निकल जाएगा।

Tags:

Latest Updates