झारखंड पुलिस को नहीं जाना पड़ेगा नारकोटिक्स जांच के लिए दूसरे लैबो पर

, ,

Share:

राज्य में नारकोटिक्स जांच के लिए झारखंड पुलिस की दूसरे लैब पर निर्भरता जल्द ही कम हो जाएगी. ड्रग्स को पकड़ने के बाद पुलिस नशीली पदार्थ की तस्करी करने वालों पर जल्द और सख्त कार्रवाई कर सके इसके लिए  झारखंड में नारकोटिक्स लेबोरेट्री को अपग्रेड किया जा रहा है. इसे लेकर झारखंड गृह विभाग की ओर से 37.68 लाख रूपया स्वीकृत किया गया है.

बता दें कि केंद्रीय गृह सचिव के साथ नवंबर 2022 को नारकोटिक्स मामले को लेकर झारखंड पुलिस की एक बैठक हुई थी. इस बैठक में रुपये वापसी का भी आग्रह किया था. जो उपयोग नहीं होने के चलते पिछले वित्तीय वर्ष में लौट गई थी. इस राशि से नारकोटिक्स जांच से संबंधित उपकरणों की खरीद होनी है, जिसे राज्य विधि विज्ञान प्रयोगशाला परिसर में ही स्थापित किया जाना है. अगर नारकोटिक्स लैब बनता है तो जब्त पदार्थों की फॉरेंसिक जांच के लिए झारखंड पुलिस को दूसरे लैब पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा.

Tags:

Latest Updates