संथाल परगना

मतदान के दिन कैसा रहेगा संथाल परगना का मौसम ?

,

Share:

संथाल परगना प्रमंडल के राजमहल, गोड्डा और दुमका सीट के लिए 1 जून को वोट डाले जाने हैं, लेकिन पूरे राज्य में पड़ रही प्रचंड गर्मी से कयास लगाए जा रहे हैं कि इतनी गर्मी में उन इलाकों के लोग वोट देने के लिए मतदान केंद्रों पर कैसे पहुंचेंगे. अगर पहुंचते भी हैं तो कतार में खड़े होकर इतनी गर्मी को कैसे झेल पाएंगे. मौसम केंद्र ने जो अनुमान जताया है, उसके मुताबिक आने वाले कुछ दिनों तक प्रचंड गर्मी से राहत मिलना मुश्किल दिख रहा है. लेकिन इस मामले में संथाल के कुछ जिलों के लोग भाग्यशाली साबित होते दिख रहे हैं.

दरअसल, झारखंड के गढ़वा और पलामू में भीषण हीट वेव को लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी कर दिया गया है. यही नहीं उत्तर पश्चिम के अन्य जिलों में भी हीट वेव का येलो अलर्ट जारी है. लेकिन 1 जून को उत्तर पूर्वी के कुछ जिलों में कहीं-कहीं मेघ गर्जन और वज्रपात के साथ तेज हवा के बीच हल्के दर्जे की बारिश की संभावना जतायी गई है. चूकि संथाल परगना के ज्यादातर जिले उत्तर-पूर्वी क्षेत्र में हैं, इसलिए वहां चुनाव के दिन प्रचंड गर्मी से राहत मिलने के आसार हैं.

चुनाव के दिन संथाल पर बरसेगी कृपा!

दरअसल, 1 जून को दुमका, राजमहल (साहिबगंज) और गोड्डा लोकसभा सीट के अधीन देवघर, जामताड़ा और पाकुड़ जिला भी आते हैं. मौसम केंद्र, रांची के अनुमान के मुताबिक वोटिंग के दिन देवघर और जामताड़ा में अधिकतम पारा 39 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है. चुनाव के दिन दुमका और साहिबगंज में अधिकतम पारा 40 डिग्री सेल्सियस तक जा सकता है. सिर्फ गोड्डा और पाकुड़ में 42 डिग्री तक पहुंचने का अनुमान है.

लिहाजा, देवघर, जामताड़ा और दुमका के वोटरों को हीट वेव को लेकर ज्यादा चिंता करने की जरुरत नहीं है. चूकि गोड्डा और पाकुड़ में 42 डिग्री तक पारा जाने की संभावना है, इसलिए वहां के वोटर सुबह के वक्त लोकतंत्र के इस महापर्व में अपनी भागीदारी निभा सकते हैं. अगर सुबह को वोट नहीं दे पाए तो उनके पास शाम का विकल्प रहेगा. इसलिए अनुमान लगाया जा रहा है कि संथाल की तीनों सीटों पर होने वाले चुनाव पर हीट वेव असर नहीं डाल पाएगा.

संथाल परगना प्रमंडल के चुनाव में हीट वेव का प्रभाव

संथाल परगना प्रमंडल के राजमहल, गोड्डा और दुमका सीट के लिए 1 जून को वोट डाले जाने हैं, लेकिन पूरे राज्य में पड़ रही प्रचंड गर्मी से कयास लगाए जा रहे हैं कि इतनी गर्मी में उन इलाकों के लोग वोट देने के लिए मतदान केंद्रों पर कैसे पहुंचेंगे. अगर पहुंचते भी हैं तो कतार में खड़े होकर इतनी गर्मी को कैसे झेल पाएंगे. मौसम केंद्र ने जो अनुमान जताया है, उसके मुताबिक आने वाले कुछ दिनों तक प्रचंड गर्मी से राहत मिलना मुश्किल दिख रहा है. लेकिन इस मामले में संथाल के कुछ जिलों के लोग भाग्यशाली साबित होते दिख रहे हैं.

हीट वेव का प्रभाव झारखंड के अन्य जिलों पर

दरअसल, झारखंड के गढ़वा और पलामू में भीषण हीट वेव को लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी कर दिया गया है. यही नहीं उत्तर पश्चिम के अन्य जिलों में भी हीट वेव का येलो अलर्ट जारी ह. लेकिन 1 जून को उत्तर पूर्वी के कुछ जिलों में कहीं-कहीं मेघ गर्जन और वज्रपात के साथ तेज हवा के बीच हल्के दर्जे की बारिश की संभावना जतायी गई ह. चूकि संथाल परगना के ज्यादातर जिले उत्तर-पूर्वी क्षेत्र में हैं, इसलिए वहां चुनाव के दिन प्रचंड गर्मी से राहत मिलने के आसार हैं.

संथाल की तीनों सीटों पर होने वाले चुनाव की स्थिति

चुनाव के दिन संथाल पर बरसेगी कृपा!

दरअसल, 1 जून को दुमका, राजमहल (साहिबगंज) और गोड्डा लोकसभा सीट के अधीन देवघर, जामताड़ा और पाकुड़ जिला भी आते हैं. मौसम केंद्र, रांची के अनुमान के मुताबिक वोटिंग के दिन देवघर और जामताड़ा में अधिकतम पारा 39 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है. चुनाव के दिन दुमका और साहिबगंज में अधिकतम पारा 40 डिग्री सेल्सियस तक जा सकता ह. सिर्फ गोड्डा और पाकुड़ में 42 डिग्री तक पहुंचने का अनुमान है.

संथाल के वोटरों के लिए सुझाव

लिहाजा, देवघर, जामताड़ा और दुमका के वोटरों को हीट वेव को लेकर ज्यादा चिंता करने की जरुरत नहीं है. चूकि गोड्डा और पाकुड़ में 42 डिग्री तक पारा जाने की संभावना है, इसलिए वहां के वोटर सुबह के वक्त लोकतंत्र के इस महापर्व में अपनी भागीदारी निभा सकते हैं. अगर सुबह को वोट नहीं दे पाए तो उनके पास शाम का विकल्प रहेगा. इसलिए अनुमान लगाया जा रहा है कि संथाल की तीनों सीटों पर होने वाले चुनाव पर हीट वेव असर नहीं डाल पाएगा.

Tags:

Latest Updates