कल आदिवासी- मूलवासी संगठनों का आक्रोश मार्च

, ,

Share:

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन इस वक्त होटवार जेल में बंद है. एक और हेमंत सोरेन कि रिहाई को लेकर झामुमो कार्यकर्ता उपवास और न्याय यात्रा निकाल रहे है तो वहीं दुसरी और बुधावार को आदिवासी मूलवासी संगठन के लोग भी न्याय यात्रा निकालने वाले है.

बता दें कि अदिवासी संगठन के लोगो का कहना है कि हेमंत सोरेन को साजिश की तहत फंसाए गया है. जिसके विरोध में 13 मार्च को बिरसा मुंडा स्माधि स्थल से अर्लब्ट एक्का चौक तक न्याय यात्रा निकाला जाएगा.

इसकी जानकारी केंद्रीय सरना समिति के अध्यक्ष अजय तिर्की ने दी. उन्होंने बताया कि आदिवासियों के लोकप्रिय हेमंत सरकार को अस्थिर करने वाली ताकतों के खिलाफ जन-जन में आक्रोश है. आज यह आक्रोश वृहत रूप ले चुका है.

आगे उन्होंने कहा कि आदिवासियों को निशाना बनाने वालों को बख्शा नहीं जाएगा. आदिवासी आक्रोश मार्च 13 मार्च को सुबह 11 बजे भगवान बिरसा मुंडा समाधि स्थल में माल्यार्पण करते हुए, लालपुर चौक, शहीद चौक, कचहरी चौक होते हुए राजभवन पहुंचेगा. समस्त आदिवासी मूलवासी अपने परंपरागत वेशभूषा में और हरवे हथियार के साथ रहेंगे. इस कार्यक्रम में रांची ही नहीं झारखंड के तमाम आदिवासी मूलवासी संगठनों के लोग हिस्सा लेंगे.

Tags:

Latest Updates