चाईबासा में एक बार फिर नक्सलियों के मंसूबे हुए नाकाम, सुरक्षाबलों ने 10 IED बम जब्त कर किया डिफ्यूज

,

Share:

चाईबासा जिले में बुधवार को नक्सलियों द्वारा चलाए जा रहे अभियान के दौरान जवानों ने टोन्टो थाना क्षेत्र अंतर्गत वनग्राम जिम्की इकरी- बागान के पास दुर्गम पहाड़ी इलाके में माओवादियों द्वार पहले से प्लांट किया गया 10 आईईडी बम बरामद किया गया है. बता दें कि बरामद आईईडी बम को उसी जगह पर डिफ्यूज कर दिया गया.

सुरक्षाबल ने आगे गोईलकेरा थानाक्षेत्र अंतर्गत वनग्राम हाथीबुरू और लोवाबेड़ा के जंगलों में लोहे का रॉड और तीर बरामद किया है. इन्हें, जंगल के बीचों-बीच गड्ढा कर प्लांट किया गया था. नक्सलियों ने सुरक्षाबलों को नुकसान पहुंचाने के इरादे से ऐसा किया था.

बता दें कि लातेहार, चाईबासा, लोहरदगा, गढ़वा सहित आसपास के नक्सल प्रभावित इलाकों में सुरक्षाबलों का अभियान जारी है.

वहीं चाईबासा पुलिस ने आधिकारिक तौर पर बताया कि 10 मार्च 2023 से ही गोईलकेरा थानाक्षेत्र अंतर्गत अति नक्सल प्रभावित गांव कुईड़ा, छोड़ा कुईड़ा, मारादिरी, मेरालगढ़ा, हाथीबुरू, तियालबेड़ा, बोयपाईससांग, कटंबा, बायहातु, बोरोय, लेमसाडीह सहित टोन्टो थानाक्षेत्र के हुसिपी, राजाबासा, तुम्बाहाका, रेगड़ा, पाटातोरब, गोबुरू और लुईया में प्रतिबंधित भाकपा (माओवादी) संगठन के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है. इसी क्रम में 13 मार्च को सुरक्षाबलों को 10 आईईडी बम मिले.

गौरतलब है कि प्रतिबंधित भाकपा (माओवादी) नक्सली संगठन के शीर्ष नेता मिसिर बेसरा, अनमोल, मोछु, चमन, कांडे, अजय महतो, सागेन अंगरिया और अश्विन अपने दस्ते के साथ कोल्हान के घने जंगलों में किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में घूम रहा है.

इन सभी नक्सलियों के मंसूबों को नाकाम करने के उद्देश्य से चाईबासा पुलिस, कोबरा बटालियन संख्या 209, 203 और 205, झारखंड जगुआर और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की बटालियन 60, 1897, 157, 174, 193, 134, 26, 190 और 11 की संयुक्त टीम लगातार दुर्गम जंगली इलाकों में अभियान चला रही है.

Tags:

Latest Updates