लोहरदगा लोकसभा सीट से जेएमएम विधायक चमरा लिंडा ने निर्दलीय भरा पर्चा

,

Share:

लोहरदगा लोकसभा सीट से बुधवार को जेएमएम विधायक चमरा लिंडा ने निर्दलीय पर्चा दाखिल कर दिया है. चमरा लिंडा के पर्चा दाखिल करते ही लोहरदगा में त्रिकोणीय मुकाबला देखने को मिलेगा. और इसका खामियाज़ा इंडिया गठबंधन को उठाना होगा.

इससे पहले चमरा लिंडा इंडिया गठबंधन को ताक पर रखते हुए 22 अप्रैल को अपने प्रतिनिधि शिवराम कच्छप के द्वारा लोहरदगा लोकसभा सीट का निर्दलीय पर्चा खरीदा था।

चमरा लिंडा गुमला जिले में आदिवासियों के बीच अच्छी पकड़ रखते हैं। विधानसभा के चुनाव में कई बार वे अपने प्रतिद्वंदियों को पछाड़ते हुए जीत हासिल कर चुके हैं। 2014 के लोकसभा चुनाव में भी चमरा लिंडा अपना दम दिखा चुके हैं।

ऐसे में लोहरदगा सीट से बीजेपी की ओर से समीर उरांव, कांग्रेस प्रत्याशी सुखदेव भगत और निर्दलीय चमड़ा लिंडा के बीच मुकाबला हो सकता है.

आजादी के बाद से लोहरदगा संसदीय क्षेत्र से अब तक 16 लोगों ने यहां का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। जिसमें सबसे पहले 1957 में झारखंड पार्टी के इग्निस बैक थे। 1961 में एस. डब्लू. ए. पार्टी के डेविड मुंजनी। उसके बाद कांग्रेस के कार्तिक उरांव।

जनता पार्टी के लालू उरांव। भारतीय जनता पार्टी के ललित उरांव। कांग्रेस के ही सुमती उरांव व इंद्रनाथ भगत। बीजेपी के प्रो. दुखा भगत। कांग्रेस के रामेश्वर उरांव तथा तीन चुनाव से लगातार हैट्रिक मारे भाजपा के सुदर्शन भगत ने यहां का प्रतिनिधित्व किया है।

2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के सुदर्शन भगत 226666 वोट के साथ में प्रथम स्थान पर थे। वहीं कांग्रेस के डॉ रामेश्वर उरांव 220177 वोट के साथ दूसरे स्थान पर थे।

जबकि चमरा लिंडा 118355 वोट मिले थे और वे तीसरे स्थान पर थे। चमरा लिंडा के मजबूत पकड़ को देखते हुए कई के नींद उड़ गए हैं।

Tags:

Latest Updates