अल्पसंख्यक बाहुल्य क्षेत्र होने के बाद भी इस संसदीय सीट पर नहीं है कोई अल्पसंख्यक उम्मीदवार…

,

Share:

Ranchi : झारखंड मे लोकसभा चुनाव के लिए कल यानी 20 मई को पांचवे चरण का मतदान होना है. वहीं  गोड्डा लोकसभा सीट पर 1 जून को मतदान डाले जाएंगे. इस बार गोड्डा सीट होट सीट बना हुआ है.

गोड्डा लोकसभा सीट पर इस बार इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है जब कोई भी मुस्लिम उम्मीदवार मैदान मे नहीं है. जबकि गोड्डा लोकसभा सीट अल्पसंख्यक बाहुल्य आबादी वाला संसदीय क्षेत्र है. झारखंड बनने के बाद एक मात्र मुस्लिम सांसद फुरकान अंसारी कांग्रेस की टिकट पर चुनाव जीत कर सदन में गए हैं.

गोड्डा सीट पर सर्वाधिक चार लाख मुस्लिम मतदाताओं की आबादी है. जबकि पूरे क्षेत्र में कुल वोटर की संख्या बीस लाख है. झारखंड निर्माण के बाद गोड्डा में एक उपचुनाव 2002 समेत कुल पांच चुनाव हुए हैं. जिसमें अब तक सभी चुनाव में मुस्लिम उम्मीदवार की भागीदारी रही है. और इस बार लोकसभा का छठा चुनाव है, ये पहली बार है जब कोई भी मुस्लिम उम्मीदवार मैदान में नहीं है.

बता दें कि इस बार चुनावी मैदान में गोड्डा से कुल दो मुस्लिम उम्मीदवार मो नूर हसन और समता पार्टी और मो मंसूर मंसूरी ने AIMIM से नामांकन किया था, जिनमें नूर हसन का पर्चा रद्द हो गया और ओवैसी की पार्टी उम्मीदवार ने पर्चा वापस ले लिया. ऐसे में अब यहा कोई भी मुस्लिम उम्मीदवार नहीं है.

Tags:

Latest Updates